लोकमंच पत्रिका

लोकचेतना को समर्पित
शहर की स्‍लम बस्तियों के बच्‍चों की प्रतिभा को निखारने के लिए ‘केएससीएफ’ और ‘बोट’ ने मिलाया हाथ 

प्रतिभा विकास कार्यक्रम गरीब बच्‍चों को संगीत, नृत्य, रंगकर्म और क्रिकेट में अपनी प्रतिभा को निखारने और उसे प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान करेगा

बच्‍चों को वरिष्‍ठ कलाकार और खिलाड़ी विशेष ट्रेनिंग देंगे

प्रतिभावान बच्‍चों को स्‍कॉलरशिप भी दी जाएगी 

कैलाश सत्यार्थी चिल्‍ड्रेन्‍स फाउंडेशन (केएससीएफ) और आईटी प्रोडक्‍ट बनाने वाली कंपनी BOAT ने दिल्‍ली की स्‍लम बस्तियों के बच्‍चों में छुपी प्रतिभा को निखारने के उद्देश्‍य से ‘‘प्रतिभा विकास कार्यक्रम’’ की शुरुआत की है। ‘‘मेरी आवाज सुनो’’ (हियर मी रोर) नामक इस कार्यक्रम को ओखला की स्‍लम बस्‍ती इंद्र कल्याण विहार (ओखला) में लॉच किया गया। यह कार्यक्रम महानगर की चार स्लम बस्तियों चाणक्‍यपुरी की संजय कैंप, ओखला के इंद्रा कल्‍याण विहार, रंगपुर पहाड़ी और वसंतकुंज की इंदर कैंप में आयोजित किया जाएगा। प्रतिभा विकास कार्यक्रम बाल सशक्तिकरण के उद्देश्‍य से महानगर की स्‍लम बस्तियों में रहने वाले समाज के कमजोर और हाशिए के बच्चों को संगीत, नृत्य, रंगकर्म और क्रिकेट के क्षेत्र में अपनी प्रतिभा को निखारने और उसे प्रदर्शित करने का अवसर प्रदान करेगा। कार्यक्रम का शुभारंभ BOAT लाइफस्टाइल के सह-संस्थापक और सीएमओ श्री अमन गुप्ता ने किया।

मेरी आवाज सुनो, लोकमंच पत्रिका

उल्‍लेखनीय है कि केएससीएफ ने दिल्‍ली की स्‍लम बस्तियों में बाल मित्र मंडल (बीएमएम) के माध्‍यम से 2018 में इस कार्यक्रम की शुरुआत की थी। बीएमएम नोबेल शांति पुरस्‍कार से सम्‍मानित श्री कैलाश सत्‍यार्थी की एक ऐसी अनूठी पहल है जिसके माध्‍यम से शहरी स्लम बस्तियों में बच्‍चों के अधिकारों, सुरक्षा एवं विकास को सुनिश्चित करने के लिए काम किया जाता है। ताकि हर बच्चा स्‍वतंत्र, सुरक्षित, स्‍वस्‍थ और शिक्षित हो। बीएमएम यह सुनिश्चित करता है कि कोई बच्‍चा बाल मजदूरी नहीं करे। सभी बच्चे स्कूल जाएं। वे स्कूल में बने रहें और बाल श्रम, ट्रैफिकिंग, बाल विवाह, बाल यौन शोषण जैसी किसी भी हिंसा या शोषण का शिकार नहीं हों। 

‘डू व्हाट फ्लोट्स योर बोट’ के दर्शन में विश्‍वास करने वाली इमेजिन मार्केटिंग लिमिटेड का लक्ष्य ऐसे युवाओं का एक समुदाय बनाना है, जो अपने लगन और प्रतिभा के जरिए खुद को निखारने के लिए प्रेरित हों। 

इस पहल के तहत बच्चों की प्रतिभा को पहचाना जाएगा और फिर उसे निखारने और उन्‍हें विशेष ट्रैनिंग देने के लिए वरिष्ठ कलाकारों और खिलाड़ियों को आमंत्रित किया जाएगा। ट्रेनिंग के अंत में प्रतिभावान बच्चों का चयन बाल सशक्तिकरण विषय पर आधारित प्रतियोगिता के लिए किया जाएगा। इस आयोजन का निर्णय एक जूरी द्वारा किया जाएगा और विजेताओं को अपनी प्रतिभा का विकास करने के लिए स्‍कॉलरशिप भी प्रदान की जाएगी। 

लोकमंच पत्रिका
लोकमंच पत्रिका

प्रतिभा विकास कार्यक्रम (टैलेंट हंट) अप्रैल से दिसंबर तक चलेगा। ट्रेनिंग कार्यक्रम अप्रैल में शुरू होंगे और दिसंबर में अंतिम प्रतिभा प्रतियोगिता और क्रिकेट टूर्नामेंट में समाप्त होंगे। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण गली क्रिकेट लीग है। यहां क्रिकेट की प्रतिभा और अभिरुचि रखने वाले बच्चों की पहचान की जाएगी। इसके बाद चयनित बच्चे एक टीम बनाएंगे। नियमित ट्रेनिंग के बाद टीम क्रिकेट टूर्नामेंट-गली क्रिकेट लीग में समुदाय का प्रतिनिधित्व करेगी।

BOAT लाइफस्टाइल के सह-संस्थापक और सीएमओ श्री अमन गुप्ता ने कार्यक्रम का शुभारंभ किया। कार्यक्रम में केएससीएफ के कार्यकारी निदेशक (कार्यक्रम) श्री राकेश सेंगर भी मौजूद थे। इस अवसर पर इमेजिन मार्केटिंग लिमिटेड के सीईओ विवेक गंभीर ने कहा, ‘‘BOAT जेन-जेड के नीति-नियमों के साथ प्रतिध्वनित होता है और हमेशा उसके उद्देश्‍य को बढ़ावा देने और उन्हें एक ऐसा स्थान प्रदान करने में विश्वास करता है जहां वे खुद को व्यक्त कर सकें।’’ 

इस अवसर पर केएससीएफ के कार्यकारी निदेशक श्री राकेश सेंगर ने कहा- ‘‘समाज के कमजोर और हाशिए के बच्चों को अवसर प्रदान करने के दृष्टिकोण से यह एक अनूठा कार्यक्रम है। यह उन बच्चों की प्रतिभा को पहचान देगा जो बुनियादी सुविधाओं से वंचित हैं। यह बच्चों को सशक्त भी करेगा और उनमें नेतृत्‍व क्षमता का विकास करेगा।’’ 

लोकमंच पत्रिका ब्यूरो, दिल्ली , 9999445502

अधिक जानकारी के लिए सम्‍पर्क करें- 

श्री अनिल पांडेय : 9205585980 (anil@india4children.com)

सुश्री परोमा भट्टाचार्य : 9910940551 (paroma@india4children.com)

Google location: https://maps.google.com/?q=28.522934,77.279114

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.