लोकमंच पत्रिका

लोकचेतना को समर्पित
नवीन कुमार जोशी की तीन कविताएं

विश्व पृथ्वी दिवस पर विशेष कविता

शीर्षक- हम सबकी है प्यारी धरती

हम सबकी है प्यारी धरती

स्वर्ग सुख से न्यारी धरती।

अच्छी-अच्छी फसलें देकर

मानव मन को भाती धरती

हीरा, पन्ना, माणिक, मोती

जैसे रत्न लुटाती धरती।

विभिन्न तरह के फूलों के संग

अपना रूप सजाती धरती

गुलाब, मोगरा, कमल, चमेली

जैसे फूलों की जान है धरती।

संपूर्ण ब्रह्मांड में देखो तो तुम

प्राणवायु का स्थान है धरती

वृक्ष अनेकों को सक्षम कर

अपना रूप दिखाती धरती।

जाति धर्म से ऊपर उठ कर

सबको संग में लाती धरती

अंत समय में प्रति प्राणी को

अपनी गोद सुलाती धरती।

हम सबकी है प्यारी धरती

स्वर्ग सुख से न्यारी धरती

लोकमंच पत्रिका
लोकमंच पत्रिका

शीर्षक- महामारी ऐसी चल रही है

महामारी ऐसी चल रही है।

इंसानियत मरती जल रही है

मिलते नहीं एक दूसरे से लोग

लग ना जाए कहीं कोई रोग

बस संकट के दौर की बेबसी खल रही है।

महामारी ऐसी चल रही है।

इधर चिताएं भभक रही है

उधर प्राणवायु कम रही है

बस अपनों से मिले बगैर जिंदगी मचल रही है।

महामारी ऐसी चल रही है।

बेबस, लाचार, भटका मजदूर

नहीं हुआ संकट से दूर

बस मजदूरी से जीने की एक उम्मीद मचल रही है।

महामारी ऐसी चल रही है।

शमशान गुलज़ार हो रहे है

दवाखाने भी कम लग रहे है

बस संकट के दौर की भयावह तस्वीर बदल रही है। 

महामारी ऐसी चल रही है।

शीर्षक- तोता-मैना बहुत सुनें

तोता-मैना बहुत सुनें

अब तेरी मेरी बारी है।

साथ रहे जीवन में हम तुम

आज वही पल जारी है।

तोता-मैना बहुत सुनें

अब तेरी मेरी बारी है…।

उगता सूरज पूरब से

पश्चिम में ढ़लना जारी है

रात-दिवस का समय फेर

अपनी ही गति से जारी है।

तोता मैना बहुत सुनें

अब तेरी मेरी बारी है…।

संतान चार को शिक्षित कर

मां में बेबस लाचारी है

वृद्ध समय में देखो तो

मां का पालन भी भारी है।

तोता-मैना बहुत सुनें

अब तेरी मेरी बारी है…।

राजनीति के पंखों पर

छाई यह खुमारी है

बाप के बूढ़े कंधों पर

बेटी की डोली भारी है

तोता मैना बहुत सुनें

अब तेरी मेरी बारी है।

साथ रहे जीवन में हम तुम

आज वही पल जारी है।

नवीन कुमार जोशी, लोकमंच पत्रिका
नवीन कुमार जोशी, लोकमंच पत्रिका

नवीन कुमार जोशी, शोधार्थी, हिंदी विभाग, राजस्थान विश्वविद्यालय जयपुर
संपर्क- +917737626466, ईमेल- nsaraswat510@gmail.com

Share On:

284 thoughts on “नवीन कुमार जोशी की तीन कविताएं

  1. Spot on with this write-up, I truly believe this website requirements a lot much more consideration. I’ll probably be once more to read much much more, thanks for that info.

  2. Im impressed. I dont think Ive met anyone who knows as much about this subject as you do. Youre truly well informed and very intelligent. You wrote something that people could understand and made the subject intriguing for everyone. Really, great blog youve got here.

  3. I dont think I’ve read anything like this before. So good to find somebody with some original thoughts on this subject. cheers for starting this up. This blog is something that is needed on the web, someone with a little originality.

  4. Hi, possibly i’m being a little off topic here, but I was browsing your site and it looks stimulating. I’m writing a blog and trying to make it look neat, but everytime I touch it I mess something up. Did you design the blog yourself?

  5. I favored your idea there, I tell you blogs are so helpful sometimes like looking into people’s private life’s and work.At times this world has too much information to grasp. Every new comment wonderful in its own right.

  6. I wanted to check up and let you know how, a great deal I cherished discovering your blog today. I might consider it an honor to work at my office and be able to utilize the tips provided on your blog and also be a part of visitors’ reviews like this. Should a position associated with guest writer become on offer at your end, make sure you let me know.

  7. Its like you read my mind! You seem to know a lot about this, like you wrote the book in it or something. I think that you can do with some pics to drive the message home a bit, but other than that, this is wonderful blog. A great read. I’ll certainly be back.

  8. [B – РўСЋРЅРёРЅРі Saab.[/B – [URL=https://saabclub.xf2.site/index.php?forums/map-tun-perfomance.25/ – авто форум saab[/URL – [U – Обсуждение новостей РІ РјРёСЂРµ авто. Общие технические РІРѕРїСЂРѕСЃС‹. Обмен опытом.[/U –

  9. I have to say this post was certainly informative and contains useful content for enthusiastic visitors. I will definitely bookmark this website for future reference and further viewing. cheers a bunch for sharing this with us!

Leave comment

Your email address will not be published. Required fields are marked with *.